Inner Banner

सतर्कता आयुक्त

डॉo तेजेंद्र मोहन भसीन

डॉo तेजेंद्र मोहन भसीन
डॉo तेजेंद्र मोहन भसीन

कार्यकलाप

डॉo भसीन ने एफ०एम०एस०, दिल्‍ली से एम०बी०ए० (वित्‍त) तथा दिल्‍ली विश्‍वविद्यालय से एल०एल०बी०, सी०ए०आई०आई०बी० किया है तथा एम०एस०सी० में स्‍वर्ण पदक प्राप्‍त किया है। वे ‘क्रिमिनोलॉजी एंड फोरेंसिक साइंस’ के एक वर्षीय फ्लैगशिप कार्यक्रम में दिल्‍ली विश्‍वविद्यालय में सर्वोत्‍तम रहे हैं। डा० भसीन ने  केनेडी स्‍कूल ऑफ गवर्नमेंट, हार्वर्ड विश्‍वविद्यालय, यू०एस० से एडवांस्‍ड फाइनैंशियल मैनेजमेंट प्रोग्राम किया है।

डॉo टी०एम० भसीन ने भारतीय बैंक संघ की सी०एच०भाभा अनुसंधान छात्रवृत्ति (1999-2000) के अंतर्गत अनुसंधान किया है तथा उनके शोध को ‘ई कामर्स इन इंडिया बैंकिंग’ पर एक पुस्‍तक के रूप में आथर्स प्रेस, दिल्‍ली द्वारा वर्ष 2002 में प्रकाशित किया गया था।

‘इंपेक्‍ट ऑफ बैंकिंग ऑन इनक्‍लूसिव ग्रोथ’ विषय पर श्री तेजेन्‍द्र मोहन भसीन के 4 वर्षों के अनुसंधान तथा शोध के आधार पर मद्रास विश्‍वविद्यालय ने इन्‍हें ‘बिजनेस एडमिनिस्‍ट्रेशन’ में ‘डॉक्‍टर ऑफ फिलॉसफी’ की डिग्री प्रदान की।

डॉo भसीन ने जून 1978 में ओरियंटल बैंक ऑफ कामर्स में परिवीक्षा अधिकारी के पद पर सेवा आरंभ की तथा सितम्‍बर, 2003 में महाप्रबंधक के स्‍तर पर पहुंचे। भारत सरकार तथा भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा की गई कड़ी चयन प्रक्रिया के परिणामस्‍वरूप दिनांक 7 नवंबर, 2007 को डा० भसीन का यूनाईटेड बैंक ऑफ इंडिया में कार्यकारी निदेशक के पद पर चयन तथा नियुक्ति हुई। डॉo भसीन 01 अप्रैल, 2010 को इंडियन बैंक के अध्‍यक्ष एवं प्रबंध निदेशक के पद पर नियुक्‍त हुए जहां उन्‍होंने 10 जून, 2015 तक कार्य किया।

इंडियन बैंक में अध्‍यक्ष एवं प्रबंध निदेशक के अपने कार्यकाल के दौरान, डॉo भसीन ने बैंकिंग तथा वित्‍त के क्षेत्रों में राष्‍ट्रीय तथा राज्‍य स्‍तर के अनेक प्रतिष्ठित पुरस्‍कार प्राप्‍त किए, जो निम्‍न है:

  • वित्‍तीय वर्ष 2012 में लघु उद्योगों को ऋण देने में श्रेष्‍ठता के लिए भारत के माननीय राष्‍ट्रपति से 4 अप्रैल, 2013 को राष्‍ट्रीय पुरस्‍कार।
  • वित्‍तीय वर्ष 2013 के लिए बैंकों को राष्‍ट्रीय पुरस्‍कार-लघु उद्योगों को ऋण देने में श्रेष्‍ठता के लिए भारत के माननीय प्रधानमंत्री से 1 मार्च, 2014 को प्रथम पुरस्‍कार।
  • भारत के माननीय राष्‍ट्रपति से दक्षिण क्षेत्र टी०ओ०एल०आई०सी० के लिए 2012-13 का इंदिरा गांधी राजभाषा पुरस्‍कार।
  • एसएचजी को ऋण देने के लिए तमिलनाडू के माननीय मुख्‍यमंत्री से 24 फरवरी, 2014 को लगातार पांचवे वर्ष प्रथम पुरस्‍कार तथा सर्वोत्‍तम बैंक पुरस्‍कार।
  • माननीय वित्‍त मंत्री से फाईनेंशियल एक्‍सप्रैस ‘एफई बेस्‍ट बैंक अवार्ड फॉर 2015’

भारतीय बैंक संघ के अध्‍यक्ष के रूप में अपने कार्यकाल के दौरान, इन्‍होंने प्रधानमंत्री जन धन योजना का सफलतापूर्वक क्रियान्‍वयन किया तथा 28 करोड़ नए बचत खाते खोले गए। साथ ही इनकी अध्‍यक्षता के अंतर्गत, लगभग 10 लाख बैंक कर्मचारियों के बैंकिंग उद्योग स्‍तर के वेतन समझौते को अंतिम रूप दिया गया, हस्‍ताक्षर किया गया तथा मई, 2015 में शांतिपूर्ण तरीके से कार्यान्वित किया गया।

वर्ष 2014-15 के दौरान डॉo भसीन, बैंकिंग कार्मिक चयन संस्‍थान के शासी बोर्ड के अध्‍यक्ष: भारतीय बैंकिंग एवं वित्‍त संस्‍थान के अध्‍यक्ष, स्‍वीफ्ट यूजर ग्रुप के अध्‍यक्ष रहे हैं तथा इन्‍होंने यूनाईटेड इंडिया इंश्‍योरेंस कंपनी लिमिटेड के बोर्ड में निदेशक के रूप में भी लगभग पांच वर्षों तक कार्य किया।